Thursday, April 1, 2010

180 डिग्री की मूवी स्क्रीन


बर्लिन. अब आप 180 डिग्री हाई रिजॉल्यूशन स्क्रीन पर मूवी देख सकते हैं। फ्रॉनहॉपर हिनरिच हट्र्ज इंस्टीट्यूट के वैज्ञानिकों ने 3.35 गुणा 12 मीटर की एक मूवी स्क्रीन बनाई है, जो 180 डिग्री एंगल पर तस्वीरों को फैला सकती है। इसकी पिक्चर क्वालिटी और साउंड सिस्टम भी गजब का है। इसके लिए एफ32 डीएलपी प्रोजेक्टरों का इंतजाम भी किया गया है। स्क्रीन का रिजॉल्यूशन सात मेगापिक्सेल है। यह सिस्टम इमेज को लंबे टुकड़ों में काटकर उन्हें खास तौर पर बनाए गई मुड़ी हुई सतह पर जोड़ देता है।

8 comments:

RAJ SINH said...

हिन्दी ब्लॉग जगत में आपका स्वागत है !

अजय कुमार said...

हिंदी ब्लाग लेखन के लिए स्वागत और बधाई
कृपया अन्य ब्लॉगों को भी पढें और अपनी बहुमूल्य टिप्पणियां देनें का कष्ट करें

माणिक said...

आपके ब्लॉग पर आकर कुछ तसल्ली हुई.ठीक लिखते हो. सफ़र जारी रखें.पूरी तबीयत के साथ लिखते रहें.टिप्पणियों का इन्तजार नहीं करें.वे आयेगी तो अच्छा है.नहीं भी आये तो क्या.हमारा लिखा कभी तो रंग लाएगा. वैसे भी साहित्य अपने मन की खुशी के लिए भी होता रहा है.
चलता हु.फिर आउंगा.और ब्लोगों का भी सफ़र करके अपनी राय देते रहेंगे तो लोग आपको भी पढ़ते रहेंगे.
सादर,

माणिक
आकाशवाणी ,स्पिक मैके और अध्यापन से सीधा जुड़ाव साथ ही कई गैर सरकारी मंचों से अनौपचारिक जुड़ाव
http://apnimaati.blogspot.com


अपने ब्लॉग / वेबसाइट का मुफ्त में पंजीकरण हेतु यहाँ सफ़र करिएगा.
www.apnimaati.feedcluster.com

Avtar Meher Baba said...

स्वागत है ब्लॉग की दुनिया में. शुभकामनायें.
चन्दर मेहेर

jayanti jain said...

great science

जयराम “विप्लव” { jayram"viplav" } said...

कली बेंच देगें चमन बेंच देगें,

धरा बेंच देगें गगन बेंच देगें,

कलम के पुजारी अगर सो गये तो

ये धन के पुजारी वतन बेंच देगें।

हिंदी चिट्ठाकारी की सरस और रहस्यमई दुनिया में राज-समाज और जन की आवाज "जनोक्ति "आपके इस सुन्दर चिट्ठे का स्वागत करता है . . चिट्ठे की सार्थकता को बनाये रखें . नीचे लिंक दिए गये हैं . http://www.janokti.com/ , साथ हीं जनोक्ति द्वारा संचालित एग्रीगेटर " ब्लॉग समाचार " http://janokti.feedcluster.com/ से भी अपने ब्लॉग को अवश्य जोड़ें .

मनोज कुमार said...

बहुत अच्छी प्रस्तुति।

संगीता पुरी said...

इस नए चिट्ठे के साथ हिंदी ब्‍लॉग जगत में आपका स्‍वागत है .. नियमित लेखन के लिए शुभकामनाएं !!